देश

"झंडा अलग, एजेंडा नहीं": BJP के साथ गठबंधन पर बोले TDP नेता चंद्रबाबू नायडू

नई दिल्ली:

तेलुगु देशम पार्टी (TDP) के  प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने रविवार को विश्वास जताया कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) आगामी लोकसभा चुनाव में सरकार बनाएगी. उन्होंने कहा कि बीजेपी-टीडीपी-जेएसपी गठबंधन के केवल झंडे अलग हैं, एजेंडा नहीं. आंध्र प्रदेश के पलनाडु जिले के बोपुडी गांव में लोगों को संबोधित करते हुए टीडीपी प्रमुख ने कहा, “मैं सभा में उमड़ी जनता को देखकर खुश हूं. आगामी 2024 के चुनावों में एनडीए सरकार बनाएगी.

यह भी पढ़ें

नायडू ने कहा कि पिछले पांच सालों से , राज्य में अराजकता का बोलबाला है. हम राज्य की वृद्धि और विकास का ध्यान रखेंगे और हम जनता से टीडीपी, बीजेपी, जनसेना गठबंधन को वोट देने की अपील करते हैं.  हमारे झंडे अलग हैं, लेकिन हमारा एजेंडा एक है.प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना करते हुए, चंद्रबाबू नायडू ने कहा, “सब का साथ, सबका विकास का पीएम मोदी ने नारा दिया था. कोरोना महामारी की स्थिति में भी, हमारे देश ने पीएम मोदी के नेतृत्व में अन्य देशों की सहायता की. पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत की आर्थिक वृद्धि में वृद्धि हुई है. 

जगन मोहन रेड्डी पर नायडू ने बोला हमला

चंद्रबाबू नायडू ने मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली राज्य सरकार की आलोचना की और आरोप लगाया कि रेड्डी ने राज्य की प्राकृतिक संसाधनों को लूटा है. नायडू ने आरोप लगाया कि सिंचाई परियोजनाओं पर इस सरकार के द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया गया.  मुख्यमंत्री जगन ने प्राकृतिक संसाधनों को लूट लिया है.  पिछले पांच वर्षों में राज्य में कोई विकास नहीं देखा गया है. कोई भी कंपनी राज्य में नहीं लाई गई है. जगन की बहनें खुद जगन को वोट न देने की अपील करती हैं उन्होंने कहा, ”राज्य में कोई भी सुरक्षित नहीं है. आंध्र प्रदेश वित्तीय संकट में है. 

यह भी पढ़ें :-  The Hindkeshariके 'एक्‍टर ऑफ द ईयर अवॉर्ड' से सम्मानित विक्रांत मैसी ने सभी ईमानदार अफसरों को समर्पित किया पुरस्कार
टीडीपी प्रमुख ने कहा कि पीएम मोदी आगामी चुनावों में 400 से अधिक सीटें हासिल करेंगे और तीसरी बार प्रधान मंत्री बनेंगे. मैं राज्य के लोगों से सभी 25 लोकसभा सीटों पर एनडीए को जीत दिलाने की अपील करता हूं.

आंध्रप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव को लेकर एक साथ आए टीडीपी, बीजेपी और जेएसपी की यह पहली चुनावी रैली थी. इसे “प्रजागलम” नाम दिया गया था. गौरतलब है कि आंध्रप्रदेश में  13 मई को एक साथ विधानसभा और लोकसभा के लिए वोट डाले जाएंगे. 

ये भी पढ़ें- : 

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button