देश

"फंड दे रहे हैं, आप EVM बटन दबाएं, अन्यथा…": अजित पवार की टिप्पणी पर महाराष्ट्र में विवाद

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में अजित पवार (Ajit Pawar) की पार्टी एनसीपी एनडीए का हिस्सा है. पार्टी की तरफ से बारामती सीट (Baramati seat) से अजित पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार को उम्मीदवार बनाया गया है. सुनेत्रा पवार के प्रचार अभियान के दौरान अजित पवार के एक बयान को लेकर विरोधियों की तरफ से हमले हो रहे हैं.  बारामती के इंदापुर में एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “हम आपको विकास के लिए धन दे रहे हैं, इसलिए ईवीएम बटन अधिक दबाएं. अन्यथा, हमें अपना हाथ पीछे खींचना होगा.”

अजित पवार के टिप्पणी पर शरद पवार के नेतृत्व वाले राकांपा गुट ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. गुट के प्रवक्ता महेश तापसे ने कहा कि अजित पवार की टिप्पणी आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है. शरद पवार गुट ने चुनाव आयोग से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है.

यह भी पढ़ें

दशकों से शरद पवार के परिवार का गढ़ रहा बारामती में यह चुनाव बेहद रोचक हो गया है. शरद पवार गुट ने तीन बार की सांसद और शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले को मैदान में उतारा है. उनका मुकाबला अपने चचेरे भाई अजित पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार से है. जूनियर पवार के अपने चाचा से अलग होने और कुछ विधायकों के साथ महाराष्ट्र में एनडीए सरकार में शामिल होने के आठ महीने बाद यह बात सामने आई है. 

 द्रौपदी वाले बयान को लेकर भी हुआ था विवाद

अजित पवार पहले से ही एक चुनावी भाषण में द्रौपदी का जिक्र करने को लेकर भी विवाद के केंद्र में हैं. बारामती के इंदापुर में डॉक्टरों के कार्यक्रम में उन्होंने विवादित बयान दिया था. उन्होंने कन्या भ्रूण हत्या पर बोलते हुए कहा था कि अस्पतालों में “अवैध चीजें” होती हैं ऐसी चीजें नहीं होनी चाहिए. कुछ जिलों में पुरुष और महिला अनुपात बहुत खराब है, यहां तक ​​कि 1000 पुरुषों पर 850 महिलाएं भी हैं। भविष्य में चीजें मुश्किल हो जाएंगी। किसी को द्रौपदी के बारे में सोचना पड़ सकता है… ऐसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है. हालांकि उन्होंने बाद में तुरंत कहा कि वो किसी की भावना को ठेस नहीं पहुंचाना चाहते हैं. 

यह भी पढ़ें :-  सुप्रीम कोर्ट ने देशभर में पटाखों पर बैन की मांग वाली याचिका पर की सुनवाई, बढ़ते प्रदूषण को लेकर जताई चिंता

ये भी पढ़ें- :

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button