दुनिया

"गाजा में नरक जैसे हालात", सीजफायर की अपील कर भावुक हो गए WHO चीफ टेड्रोस

इजरायल और गाजा युद्ध पर WHO चीफ. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

इजरायल और गाजा युद्ध (Israel Palestine War) को कुछ ही दिनों बाद 3 महीने पूरे होने को हैं. लेकिन अब तक इसका कोई स्थायी समाधान नहीं निकल सका है. पहले हमास ने इजरायल में तबाही मचाई, अब इजरायल भी गाजा को तबाह करने की कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहा है. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन के चीफ ने चिंता जाहिर की है. रॉयटर्स के मुताबिक,  गुरुवार को उन्होंने वैश्विक स्वास्थ्य निकाय की गवर्नमेंट बॉडी से एक भावुक अपील करते हुए गाजा में युद्धविराम का आह्वान किया. WHO चीफ ने यह अपील इज़रायल-फिलिस्तीनी संघर्ष के “सच्चे समाधान” के लिए की. उन्होंने गाजा के हालात को “नारकीय” बताया.

यह भी पढ़ें

ये भी पढे़ं-तीसरे विश्व युद्ध की आशंका खारिज नहीं कर सकते : यूएनजीए अध्यक्ष

गाजा के हालात पर चिंता में WHO चीफ

WHO के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस गाजा के हालात पर बात करते हुए भावुक हो गए. दरअसल टेड्रोस अदनोम ने भी अपने बचपन में युद्ध के हालात देखे थे. उनके अपने बच्चे 1998-2000 के इरीट्रिया के साथ सीमा युद्ध में हुई बमबारी के दौरान एक बंकर में छिप गए थे.  WHO के डायरेक्टर जनरल ने बमबारी वाले गाजा क्षेत्र के हालात का जिक्र करते हुए भावुक हो गए. बता दें कि गाजा में इजरायली सेना के हाथों अब तक 25,000 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं. वहीं इजरायल के राजदूत ने कहा कि WHO चीफ की टिप्पणियां “पूर्ण नेतृत्व विफलता” को दिखाती हैं.

“गाजा में ज्यादा लोग भूख और बीमारी से मरेंगे”

इजरायली राजदूत ने वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी पर हमास के साथ “मिलीभगत” का भी आरोप लगाते हुए कहा कि WHO ने गाजा अस्पतालों में हमास की सैन्य गतिविधियों पर आंखें मूंद लीं. वहीं डब्लीएचओ चीफ टेड्रोस ने चेतावनी देते हुए कि गाजा में ज्यादा लोग भूख और बीमारी से मरेंगे.बता दें कि 7 अक्टूबर को हमास के आतंकियों ने इजरायल में घुसकर 1,200 लोगों की हत्या कर दी थी, जिनमें से ज्यादातर आम लोग शामिल थे. जिसके बाद इजरा.ल ने हमास को ख़त्म करने की कसम खाते हुए गाजा में हमले शुरू कर दिए.  

यह भी पढ़ें :-  ब्रिटेन के किंग चार्ल्स III को हुआ कैंसर, बकिंघम पैलेस ने जारी किया बयान

ये भी पढ़ें-75 वां गणतंत्र दिवस समारोह 2024 : जानिए- कर्तव्य पथ पर होने वाली परेड का समयबद्ध कार्यक्रम

(इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button