देश

पत्नी के शव के पास IPS की खुदकुशी: एक प्यारी सी लव स्टोरी का यह कैसा दर्दनाक अंत!

ये कोई फिल्म नहीं असल जिंदगी है. फिल्मों में तो अक्सर देखा जाता है कि हीरो ने हीरोइन की खातिर जान दे दी. प्रेमी ने प्रेमिका की खातिर जिंदगी कुर्बान कर दी. ऐसा ही मामला असम में देखने को मिला है. पति-पत्नी के ‘अमर प्रेम’ की अद्भुद मिसाल पेश की है सीनियर IPS ऑफिसर शिलादित्य (IPS Officer Shiladitya) ने.लेकिन जान देने को सही नहीं ठहराया जा सकता. पत्नी कैंसर से जंग क्या हारीं, ये सदमा वह बर्दाश्त नहीं कर सके, उन्होंने खुद भी जान ले ली. ये महज एक घटना नहीं बल्कि मिसाल है पत्नी-पत्नी के उस प्रेम की, जिसे हर कोई शायद महसूस भी न कर सके. अगामोनी ने दुनिया को अलविदा क्या कहा, शिलादित्य को लगा कि मानो उनकी दुनिया सिर्फ उजड़ी ही नहीं बल्कि पूरी तरह से खत्म हो गई है. क्यों कि अगामोनी सिर्फ उनकी हमसफर ही नहीं उनकी सबसे प्यारी दोस्त भी थीं. जिसके साथ उन्होंने साथ जीने-मरने की कसमें खाई होंगी, उनके भला वह अकेले कैसे जाने देते. 

शिलादित्य ने जब अस्पताल के बेड पर पड़ी पत्नी के मृत शरीर को देखा होगा. उसकी रूह तो शरीर उसी वक्त निकल गई होगी. वह उसी वक्त बेसुध हो गए होंगे. उनके दिल और दिमाग ने तो मानो जैसे सुन्न सा हो गया होगा. उनको लगा होगा कि ‘तुम नहीं तो कुछ भी नहीं’. शिलादित्य और उनकी पत्नी के बीच का बॉन्ड कैसा था, इस बात का अंदाजा लगा पाना जरा भी मुश्किल नहीं है. उनकी कुछ तस्वीरें सामने आई हैं, जिसमें दोनों ‘मेड फॉर ईच अदर’ या यूं कहें कि दो जिस्म, एक जान से लग रहे हैं. ये समझ पाना मुश्किल नहीं है कि शिलादित्य की दुनिया शायद अगामोनी तक ही है. दोनों के बीच का प्यार कुछ इतना गहरा रहा होगा, कि शिलादित्य उनके जाते ही खुद को मिटाने पर मजबूर हो गए. उन्हें जीने के लिए कुछ नजर ही नहीं आया और उन्होंने भी मौत को गले लगाना ज्यादा बेहतर समझा. 

अगामोनी-शिलादित्य का ‘अमर प्रेम’

आज कल के समय में जब रिश्तों की वेल्यू खत्म होती जा रही है. छोटी-छोटी बातों पर पति, सात वचनों और कसमों की परवाह न करते हुए पत्नी की जान लेने पर अमादा हो जाते हैं, ऐसे समय में शिलादित्य और अगामोनी का रिश्ता किसी मिसाल से कम नहीं है. पति-पत्नी के बीच का प्रेम कितना गहरा होना चाहिए, ये आजकल के कपल्स को इन दोनों से सीखने की जरूरत है. हालांकि यह खबर झकझोर देने वाली है. पत्नी की मौत तो बीमारी से हुई लेकिन एक पढ़े-लिखे और पावरफुल अफसर के लिए इस सदमे को बर्दाश्त करना जैसे नामुमकिन सा था. वह परेशानियों, चुनौतियों से जूझने की हिम्मत तो रखता था, लेकिन प्यार के आगे मानो हार सा गया. अगामोनी और शिलादित्य के दुनिया को अलविदा कह देने से उनके दोस्त और चाहने वाले सदमे में हैं. उनके दोस्त इसे ‘सच्चा प्यार’ कह रहे हैं. उनका मानना है कि मौत भी उनको अलग नहीं कर सकी. 

यह भी पढ़ें :-  चुनाव आयोग ने PM मोदी की 'संपत्ति बांट देने वाली' टिप्पणी के खिलाफ शिकायतों की पड़ताल की शुरू

Latest and Breaking News on NDTV

पत्नी की मौत का ऐसा सदमा

अंकित रुद्र नाम के एक शख्स का कहना है कि शिलादित्य एक पावरफुल आईपीएस ऑफिसर थे. कोरोना काल में तुनसुकिया के लिए उन्होंने बहुत काम किया, जबकि वह खुद बुरी तरह से संक्रमित हो गए थे. हो सकता है कि बहुत से लोगों ने उनका नाम भी न सुना हो. पत्नी के कैंसर से दम तोड़ते ही उन्होंने भी जान दे दी. अंकित ने शिलादित्य को ‘लेजेंड’ कहा है. 

Latest and Breaking News on NDTV

आए दिन ऐसी खबरें देखने और सुनने को मिलती हैं कि खाना अच्छा नहीं बना तो पति ने पत्नी को छत से फेंक दिया. या फिर छोटी से झगड़े में पति ने पत्नी की जान ले ली. लेकिन यहां हालात बिल्कुल उलट हैं. जब रिश्तों की गर्माहट और प्यार जैसे खत्म सा हो रहा है, वहां पर अगामोनी और शिलादित्य के प्यार भरे रिश्ते से लोगों को सीख लेने की जरूरत जरूर है. हालांकि आईपीएस अफसर की मौत उनके चाहने वालों और जानने वालों के लिए किसी सदमे से कम नहीं है. शिलादित्य अपनी पत्नी से कितना प्यार करते थे, इस का बात अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि वह पिछले चार महीने से छुट्टी पर थे और अपनी पत्नी की देखरेख कर रहे थे. 



NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button