दुनिया

Israel-Hamas War: इज़रायली सेना ने 7 अक्टूबर के हमलों में शामिल हमास के नकबा यूनिट कमांडर को किया ढेर

Israel-Hamas War: इजरायल-हमास युद्ध में हमास शासित गाजा में 11,000 से अधिक फिलीस्तीनी नागरिकों की मौत हो गई है. (फाइल फोटो)

यरूशलेम:

Israel-Hamas War: इजरायली सेना ने इंटेलिजेंस डिवीजन के इनपुट के आधार पर गाजा में हमास के नकबा यूनिट के कई आतंकवादियों को मार गिराया, जिन्होंने 7 अक्टूबर को इजरायल पर किए गए हमले में शामिल था. इजरायली डिफेंस फोर्स (आईडीएफ) ने यह जानकारी दी है. आईडीएफ ने बताया कि मारे गए आतंकवादियों में नकबा यूनिट के कमांडर अहमद मूसा और पश्चिमी जबालिया में मौजूद एक आतंकी पलटन के कमांडर उमर अलहांडी शामिल थे.

यह भी पढ़ें

आईडीएफ रिजर्व ने रात भर में 19 हमास आतंकवादियों पर किया हमला

वहीं,  252वीं डिवीजन के आईडीएफ रिजर्व ने रात भर में 19 हमास आतंकवादियों पर हमला किया, जो उसकी सेना पर हमला करने की तैयारी कर रहे थे. इसके अलावा, 401वीं बख्तरबंद ब्रिगेड कॉम्बैट टोही यूनिट के लड़ाकों ने एक ऐसे कंटेनर का पता लगाया, जिसमें समुद्र तट पर लगभग 20 रॉकेट लांचर थे और उसे नष्ट कर दिया. 

नागरिकों के बीच हथियार और रॉकेट छिपा रहे हमास के आतंकी

हमास द्वारा नागरिकों के बीच हथियार और रॉकेट छिपाने का काम किया जा रहा है. इजरायली सेना को शेख एजालिन के पड़ोस में पैराट्रूपर्स द्वारा किए गए ब्रिगेड-स्तरीय हमले के दौरान आवासीय भवनों के पास एक रॉकेट लांचर मिला. इस दौरान पाए गए सभी हथियार आईडीएफ बलों द्वारा नष्ट कर दिए गए या जब्त कर लिए गए.

इजरायल-हमास युद्ध में 11,000 से अधिक फिलीस्तीनियों की मौत

इजरायल-हमास युद्ध में हमास शासित गाजा में 11,000 से अधिक फिलीस्तीनी नागरिकों की मौत हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी. मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि हमास के सात अक्टूबर को इजरायल पर अचानक हमले के बाद शुरू हुए युद्ध के बाद से 11,078 लोग मारे गए हैं.

यह भी पढ़ें :-  भारत ने इज़रायल पर संयुक्त राष्ट्र महासभा में मतदान से किया परहेज, हमास के हमले का नहीं था जिक्र

इजरायल में 1,400 से अधिक लोग मारे गए हैं जिसमें मुख्य रूप से लोग हमास के शुरुआती हमले में मारे गए थे जबकि जमीनी हमले की शुरुआत के बाद से गाजा में इजरायल के 41 सैनिक मारे गए हैं.


 

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button