देश

बिहार में महागठबंधन के बीच सीटों के बंटवारे पर क्यों फंसा पेंच? यहां जानिए

आरजेडी की तरफ से कांग्रेस को छह से 8 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऑफर दिया गया है.

लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही तमाम पार्टियां अपने उम्मीदवारों के नाम घोषित करने में लगी है. वहीं बिहार में महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर अभी भी पेंच फंसा हुआ है. जबकि एनडीए में सीट बंटवार हो चुका है. बिहार में सीट बंटवारे को लेकर राज्य के कांग्रेस अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने लालू यादव से मुलाकात की. माना जा रहा है कि दोनों नेताओं के बीच सीट बंटवारे पर विस्तार से चर्चा हुई. बिहार कांग्रेस अध्यक्ष ने अगले कुछ ही घंटों में सीट बंटवारे पर स्थिति साफ हो जाने की बात कही. 

यह भी पढ़ें

फिलहाल बिहार में सीट बंटवारे पर दो जगह पेंच फंसा हुआ है. कांग्रेस चाहती है कि वो दस से बारह सीटों पर चुनाव लड़े. जबकि आरजेडी की तरफ से उन्हें छह से 8 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऑफर दिया गया है. कांग्रेस को दिक्कत ये भी है कि उन्हें आरजेडी की तरफ से ऐसी सीट मिली है, जहां पर उनके पास अच्छा उम्मीदवार भी नहीं है. जैसे कि सासाराम की सीट, एक वक्त में यहां से मीराकुमार उम्मीदवार होती थी. लेकिन उन्होंने चुनाव लड़ने से मना कर दिया.

इसके अलावा कांग्रेस अपनी परंपरागत सीटों से चुनाव लड़ने की मांग कर रही है. इन सीटों पर आरजेडी अपने उम्मीदवार खड़े करना चाहती है. साथ ही साथ लालू यादव ने कई सीटों पर सिंबल बांटने का काम शुरू कर दिए हैं. औरंगाबाद से अभय कुशवाह को सिंबल देने की बात सामने आ रही है, जिस पर कांग्रेस पार्टी की तरफ से आपत्ति जताई जा रही है. इसके अलावा सीईसी की बैठक में अन्य राज्यों में भी उम्मीदवार घोषित करने के लिए बैठक हुई.

यह भी पढ़ें :-  "दबदबा था, दबदबा रहेगा" : रेसलिंग फेडरेशन के चुनाव में अपने करीबी की जीत के बाद बोले बृजभूषण

ये भी पढ़ें : क्या वरुण गांधी की राह बीजेपी से होगी जुदा? सपा ने पीलीभीत से दिया चुनाव लड़ने का ऑफर

ये भी पढ़ें : “कांग्रेस को आर्थिक रूप से कमजोर करने के लिए किए जा रहे व्यवस्थित प्रयास” : सोनिया गांधी

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button