देश

Lok Sabha Election 2024: "आप जहां से भी चुनाव लड़ें…": ममता बनर्जी ने BJP में शामिल हुए पूर्व जज को दी चुनौती

Lok Sabha Election 2024: गंगोपाध्याय के BJP में शामिल होने पर टीएमसी की आई तीखी प्रतिक्रिया

कलकत्ता:

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल हुए कलकत्ता उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश अभिजीत गंगोपाध्याय पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने निशाना साधा है. राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस से पूर्व आयोजित रैली में ममता बनर्जी ने कहा कि ” एक बीजेपी बाबू बेंच पर बैठे थे और अब वो बीजेपी में शामिल हो गए हैं. आप उनसे न्याय की उम्मीद कैसे कर सकते हैं? नकाब उतर गया है”…अगर वह आगामी लोकसभा चुनाव लड़ते हैं, तो वह सुनिश्चित करेंगी कि वह हार जाएं. 

यह भी पढ़ें

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन पर उनके राजनीतिक रूप से पक्षपातपूर्ण निर्णयों के माध्यम से राज्य में ‘हजारों युवाओं की नौकरियां छीनने’ का आरोप लगाया. उन्होंने कहा युवा आपको माफ नहीं करेंगे. आपके सभी फैसले सवालों के घेरे में हैं. हम आपकी हार सुनिश्चित करेंगे. कल से राज्य की जनता आपकी हरकतों के लिए न्यायाधीश की भूमिका निभाएगी.”

गंगोपाध्याय कलकत्ता उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में तब सुर्खियों में आए थे जब उन्होंने ममता बनर्जी सरकार की शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारियों की भर्ती में अनियमितताओं के आरोपों की जांच के लिए केंद्रीय एजेंसियों को कई आदेश जारी किए थे.

राज्य से भ्रष्ट TMC शासन को बाहर करना है: अभिजीत

कलकत्ता उच्च न्यायालय के न्यायाधीश पद से इस्तीफा देने के दो दिन बाद अभिजीत गंगोपाध्याय बृहस्पतिवार को बीजेपी में शामिल हो गए हैं. उच्च न्यायालय के न्यायाधीश पद से इस्तीफा देने के कुछ घंटों बाद गंगोपाध्याय ने मंगलवार को घोषणा की थी कि वह बीजेपी में शामिल होंगे. गंगोपाध्याय ने बीजेपी में शामिल होने के बाद कहा, ‘‘आज मैंने एक नए क्षेत्र में कदम रखा है. मैं बीजेपी में शामिल होकर खुश हूं और पार्टी के सिपाही के तौर पर काम करूंगा. हमारा उद्देश्य राज्य से भ्रष्ट टीएमसी (तृणमूल कांग्रेस) शासन को बाहर करना है.”

यह भी पढ़ें :-  गुरुग्राम में आग के गोले में तब्दील हुई पैसेंजर बस, दो यात्रियों की मौत

राज्य में शिक्षा संबंधी विभिन्न मामलों खासकर टीएमसी से जुड़े मामलों पर गंगोपाध्याय के फैसलों ने राजनीतिक बहस छेड़ दी थी. उन्होंने इस बात का सीधा जवाब नहीं दिया कि वह चुनाव लड़ेंगे या नहीं. उन्होंने कहा, “पार्टी मुझे जो काम सौंपेगी, मैं पूरी लगन से उसे निभाउंगा. ” (भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें- मालदीव की सेना के पास भारत के हेलीकॉप्टर, असैन्य चालक दल का परिचालन नियंत्रण होगा: अधिकारी

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button