देश

"नीतीश कुमार को सरकार जाने का डर": फ्लोर टेस्ट से पहले तेजस्वी यादव के आवास पर भारी संख्या में पहुंची पुलिस पर RJD

बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा में राजद के सबसे अधिक 79 विधायक हैं. (file image)

खास बातें

  • बिहार विधानसभा में आज फ्लोर टेस्ट
  • नीतीश कुमार को सरकार बचाने के लिए 122 विधायकों के समर्थन की जरूरत
  • नीतीश कुमार ने 128 विधायकों के समर्थन का दावा किया है

पटना:

Bihar Politics: राष्ट्रीय जनता दल (राजद, RJD) विधायक चेतन आनंद के ‘लापता’ होने की शिकायत के बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारी रविवार को पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के पटना आवास पर पहुंचे. दरअसल RJD के सभी विधायक तेजस्वी यादव के आवास पर ठहरे हुए हैं. पुलिस में विधायक चेतन आनंद के छोटे भाई अंशुमान आनंद ने उनके लापता होने की शिकायत दर्ज करवाई थी. जिसके बाद पुलिस रविवार देर शाम तेजस्वी यादव के आवास पर गई थी. वहीं इस मामले पर राजद की ओर से अब एक बयान भी आया है, जिसमें नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा गया है.

यह भी पढ़ें

राजद ने एक्स पर पोस्ट करते हुए कहा, नीतीश कुमार ने सरकार जाने के डर से हजारों की संख्या में पुलिस भेज तेजस्वी जी के आवास को चारों तरफ़ से घेर लिया है. ये किसी भी तरह से किसी भी बहाने आवास के अंदर घुस कर विधायकों के साथ अप्रिय घटना करना चाहते है. बिहार की जनता नीतीश कुमार और पुलिस के कुकर्म देख रही है. याद रहे हम डरने और झुकने वालों में से नहीं है. ये वैचारिकी का संघर्ष है और हम इसे लड़ेंगे और जीतेंगे क्योंकि बिहार की न्यायप्रिय जनता इस पुलिसिया दमन का प्रतिकार करेगी. जय बिहार! जय हिन्द

यह भी पढ़ें :-  ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पक्षकारों को उपलब्ध कराने पर अब 3 जनवरी को सुनवाई

शनिवार से तेजस्वी यादव के आवास पर हैं विधायक

राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने कहा था कि सोमवार को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के विश्वास मत तक पार्टी के सभी विधायक यहां तेजस्वी यादव के आवास पर रहेंगे. कल राजद की तरफ से एक वीडियो जारी किया गया था. जिसमें तेजस्वी यादव रात के समय अपने विधायकों के साथ बैठे हुए दिख रहे हैं. इस दौरान तेजस्वी यादव अपने विधायकों के साथ  “ना छेड़ो हमें, हम सताए हुए हैं… गाना गा रहे थे. “

बिहार विधानसभा में फ्लोर टेस्ट

बिहार विधानसभा (Bihar Assembly) में आज फ्लोर टेस्ट होने वाला है. नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को अपनी सरकार को बचाने के लिए 122 विधायकों के समर्थन की जरूरत है. हालांकि उन्होंने राज्यपाल के सामने 128 विधायकों के समर्थन का दावा किया है. बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा में राजद के सबसे अधिक 79 विधायक हैं. 

पटना पहुंचे कांग्रेस और बीजेपी के विधायक

पार्टी विधायकों में टूट की आशंका के बाद कांग्रेस ने अपने विधायकों को हैदराबाद शिफ्ट कर दिया था. अब ये विधायक वापस पटना पहुंच गए हैं. वहीं बीजेपी के विधायक भी बोध गया में थे जहां से उन्हें पटना लाया गया है. गौरतलब है कि कांग्रेस के 16 विधायक ही हैदराबाद गए थे. 3 विधायक बिहार में ही थे. 

ये भी पढ़ें- फ्लोर टेस्ट से पहले बिहार में शह-मात का खेल, आंकड़े जुटा रहे दल; कई विधायक अब भी ‘लापता’!

यह भी पढ़ें :-  विश्व हिंदू सम्मेलन में 'हिंदूवाद' त्यागकर 'हिंदुत्व' और 'हिंदू धर्म' शब्दों को अपनाया गया

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button