देश

असम में लगेगा 25000 करोड़ का सेमीकंडक्टर पैकेजिंग प्लांट, आईटी राज्यमंत्री ने की घोषणा

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी, कौशल विकास एवं उद्यमिता और जल शक्ति राज्यमंत्री राजीव चंद्रशेखर ने गुरुवार को यहां कहा कि असम में जल्द ही करीब 25000 करोड़ रुपये का सेमीकंडक्टर पैकेजिंग प्लांट लगेगा. आईटी राज्यमंत्री ने यह घोषणा यहां डिजिटल इंडिया फ्यूचरस्किल्स शिखर सम्मेलन में की. गुवाहाटी विश्वविद्यालय के बिरिंची कुमार बरुआ ऑडिटोरियम में आयोजित इस शिखर सम्मेलन के दौरान आईटी राज्यमंत्री राजीव चंद्रशेखर ने यह जानकारी दी है.

यह भी पढ़ें

आईटी राज्यमंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि असम सरकार और टाटा समूह के साथ साझेदारी में एक सेमीकंडक्टर पैकेजिंग प्लांट स्थापित किया जाएगा. हम जल्द ही सभी प्रकार की मंजूरी प्राप्त कर लेंगे और इसे अंतिम मंजूरी के लिए कैबिनेट को सौंप देंगे. सेमीकंडक्टर की दुनिया में प्रवेश करने के इच्छुक युवा भारतीयों को अब अपना राज्य छोड़ने या दूसरे शहर जाने की जरूरत नहीं होगी.

आईटी राज्यमंत्री ने असम में सेमीकंडक्टर पैकेजिंग प्लांट लगाये जाने का श्रेय राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा के नेतृत्व को दिया. केंद्रीय मंत्री ने बताया कि देश की अर्थव्यवस्था में पिछले एक दशक के दौरान काफी प्रगति हुई है और कभी दुनिया के पांच सबसे बदहाल अर्थव्यवस्थाओं में शुमार भारत आज दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी आर्थिक ताकत है.

उन्होंने कहा कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत आज प्रगति के पथ पर अग्रसर है और देश में युवाओं के लिए अवसरों की अपार संभावनाएं हैं, विशेष रूप से उभरती प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में भारत शेष दुनिया के साथ अग्रिम पंक्ति में खड़ा है. 

उन्होंने कहा, ‘‘फ्यूचरस्किल्स के माध्यम से, हम देश के युवाओं को यह बताना चाहते हैं कि हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की नीतियों के कारण आने वाले वर्षों में उनके लिए अनेक अवसरों पैदा होंगे. विद्यार्थियों को एआई, साइबर सुरक्षा और सेमीकंडक्टर जैसे क्षेत्रों में खुद को सशक्त बनाने और कौशल से लैस करने की आवश्यकता है. इन क्षेत्रों में दुनिया की अग्रणी कंपनियां, जिनमें एनवीआईडीआईए, इंटेल, एएमडी, एचसीएल, विप्रो और आईबीएम शामिल है,ं आज यहां गुवाहाटी में मौजूद हैं. वे सभी एक ही संदेश साझा करते हैं – नौकरी के जबरदस्त अवसर हैं, लेकिन इसके लिए कौशल बहुत जरूरी है.”

यह भी पढ़ें :-  "युवाओं के लिए 1 लाख करोड़ का बजट होगा गेम चेंजर": The Hindkeshariसे बोले केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button