दुनिया

US को गाजा में फंसे अपने नागरिकों की चिंता, मिस्र के राफा क्रॉसिंग के करीब जाने की दी सलाह

नई दिल्ली:

अमेरिका और इजरायल ने गाजा (Israel Gaza War) में फंसे विदेशी नागरिकों को बाहर निकालने के लिए अहम फैसला लिया है. मिस्र भी इस फैसले में अमेरिका और इजरायल का साथ दे रहा है ताकि गाजा में फंसे विदेशी नागरिकों को सुरक्षित बाहर निकाला जा सके. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक इजराइल, अमेरिका और मिस्र के बीच गाजा में फंसे नागरिकों को राफा बॉर्डर के जरिए मिस्र में एंट्री देने पर सहमति बन गई है. इस सहमति के बाह अमेरिकी सरकार ने गाजा में फंसे अपने नागरिकों को सलाह दी है कि वह राफा बॉर्डर पार करने के लिए दक्षिण की तरफ जाएं, जिससे कि मिस्त्र इजरायल में गाजा के हमले के बीच बॉर्डर को फिर से खोलने के लिए तैयार रहे. 

यह भी पढ़ें

ये भी पढ़ें-हमास ने कर दी बेस्ट फ्रेंड की हत्या, दोस्त को इजराइल फेस्ट के दौरान ‘रन फॉर लाइफ’ याद आई

गाजा में फंसे अमेरिकियों को बाहर निकालने की कोशिश

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन के साथ यात्रा कर रहे विदेश विभाग के एक सीनियर अधिकारी ने मीडिया को बताया कि वाशिंगटन ने फिलिस्तीनी-अमेरिकियों को गाजा से निकलने की अनुमति देने के लिए शनिवार दोपहर को कुछ समय के लिए  राफा क्रॉसिंग खोलने पर सहमति बनाने के लिए मिस्र, इज़रायल और कतर के साथ बात की. उन्होंने कहा कि यह साफ नहीं था कि गाजा पर नियंत्रण रखने वाला फिलिस्तीनी गुट हमास राफा क्रॉसिंग तक पहुंचने की अनुमति देगा या फिर क्या अमेरिकी नागरिक बाहर निकलने में सक्षम होंगे. उन्होंने कहा कि ये भी नहीं पता था कि अमेरिका रविवार को राफा क्रॉसिंग खुलवाने के लिए एक और कोशिश करेगा भी या नहीं. 

यह भी पढ़ें :-  "इजरायल को भी आत्मरक्षा का अधिकार": हमास से युद्ध के बीच चीन के रुख में बदलाव

राफा क्रॉसिंग के जरिए गाजा से निकालने पर जोर

अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि हमने गाजा में संपर्क वाले अमेरिकी नागरिकों को सूचना दी है कि अपनी सुरक्षा को देखते हुए वे लोग मिस्र की राफा क्रॉसिंग की तरफ जा सकते हैं. उन्होंने कहा कि अगर राफा क्रॉसिंग खुलती है तो वहां से बाहर निकलने के लिए बहुत ही कम समय होगा, क्यों कि यह बहुत ही सीमित समय के लिए ही खुलेगी. अमेरिकी सरकार के अनुमान के मुताबिक गाजा पट्टी की 2.3 मिलियन की आबादी के बीच करीब 500-600 फिलिस्तीनी-अमेरिकी नागरिक रह रहे हैं. अमेरिका ने उम्मीद जताई है कि वह अपने नागरिकों को बिना किसी नुकसान के सुरक्षित वहां से बाहर निकाल लेगा. 

इजरायल-हमास युद्ध के बीच US को अपने नागरिकों की चिंता

व्हाइट हाउस की तरफ से जारी बयान के मुताबिक राष्ट्रपति जो बाइडेन ने शनिवार को इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और फिलिस्तीनी प्राधिकरण के अध्यक्ष महमूद अब्बास के साथ बातचीत के दौरान फिलिस्तीनी नागरिकों को मानवीय सहायता देने की तत्काल आवश्यकता पर जोर दिया. इजरायल-हमास यद्ध के बीच अब्बास के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने पली बार फोन पर बातचीत की, उन्होंने फिलिस्तीन को मानवीय सहायता देने के लिए अपना समर्थन देने की पेशकश की और गाजा से अपने नागरिकों तक आपूर्ति सुनिश्चित करने की अमेरिका की कोशिशों पर भी चर्चा की.

ये भी पढ़ें-इस्‍लामिक देशों के समूह ने इजरायल-गाजा युद्ध को लेकर बुलाई ‘तत्काल’ बैठक | फुल कवरेज

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

यह भी पढ़ें :-  इजरायल और फिलिस्तीन संघर्ष : ईरान के राष्ट्रपति और साउदी के प्रिंस ने की फोन पर बात

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button