दुनिया

VIDEO : ताइवान में भूकंप के तेज झटकों से इमारतें झुकीं, हिचकोले खाते दिखे पुल

प्रतीकात्मक तस्वीर ( फाइल फोटो )

ताइवान में आज जोरदार भूकंप (Taiwan Earthquake) आया, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई और कम से कम 60 घायल हो गए. भूकंप के बाद जापान और फिलीपींस में सुनामी (Tsunami) की चेतावनी जारी कर दी गई. सोशल मीडिया पर पोस्ट किए जा रहे विजुल्स में इमारतें और पुल बुरी तरह हिलते दिख रहे हैं. साथ ही लोग इधर से उधर भी भागते दिख रहे हैं. एएफपी के अनुसार, रिक्टर पैमाने पर 7.4 तीव्रता का भूकंप आया,  जो कि 25 वर्षों में द्वीप पर आया सबसे शक्तिशाली भूकंप है. अधिकारियों ने आने वाले दिनों में और अधिक झटकों की चेतावनी दी है.

यह भी पढ़ें

ताइवान के अधिकारियों की रिपोर्ट है कि यह 1999 में देश में आए 7.6 तीव्रता के भूकंप के बाद सबसे शक्तिशाली भूकंप है, जिसमें 2,400 लोग मारे गए थे. ऑनलाइन सामने आए वीडियो में भूकंप के झटकों के कारण कई इमारतें हिलती हुई दिखाई दे रही हैं. एक अन्य वीडियो में लोगों को एक पुल पर फंसे हुए दिख रहे हैं, जबकि भारी भूकंप के कारण पुल हिचकोले खा रहा है. एएफपी के अनुसार, भूकंप के बाद हुआलिएन और अन्य जगहों पर बहुमंजिला इमारतें झुक गईं.

मरने वाले चार लोगों में से तीन सात लोगों के समूह का हिस्सा थे जो ताइपे शहर के चारों ओर की पहाड़ियों के बीच सुबह की सैर पर निकले थे. भूस्खलन के कारण बड़े पैमाने पर चट्टानें खिसकने से ये लोग कुचलकर मर गए. जिस चौथे शख्स की मौत हुई वो कथित तौर पर एक ट्रक चालक था जिसका वाहन तब भूस्खलन की चपेट में आ गया जब वह एक सुरंग के पास था.

यह भी पढ़ें :-  ताइवान के राष्ट्रपति ने भूकंप पीड़ित लोगों के प्रति एकजुटता प्रकट करने पर PM मोदी का जताया आभार

स्थानीय ताइवानी टीवी चैनलों ने लगभग 100,000 लोगों की आबादी वाले तटीय शहर हुआलिएन की सड़कों पर बुलडोजरों को चट्टानों को हटाते हुए दिखाया. ताइवान की राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने स्थानीय और केंद्र सरकार की एजेंसियों से एक-दूसरे के साथ समन्वय करने का आह्वान किया और कहा कि राष्ट्रीय सेना भी सहायता प्रदान करेगी.

ताइवान, जापान और फिलीपींस में, अधिकारियों ने शुरू में सुनामी की चेतावनी जारी की थी, लेकिन लगभग 10 बजे (0200 GMT) तक, प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र ने कहा कि खतरा “काफी हद तक टल गया.” राजधानी में, मेट्रो कुछ समय के लिए बंद हो गई लेकिन एक घंटे के भीतर फिर से शुरू हो गई, जबकि निवासियों को किसी भी गैस रिसाव की जांच करने के लिए अपने स्थानीय नगर प्रमुखों से चेतावनी मिली.

ताइवान नियमित रूप से भूकंप की चपेट में रहता है क्योंकि यह द्वीप दो टेक्टोनिक प्लेटों के जंक्शन के पास स्थित है, जबकि पास के जापान में हर साल लगभग 1,500 झटके महसूस होते हैं.

ये भी पढ़ें : ताइवान में 7.4 तीव्रता का भूकंप, 25 साल में सबसे शक्तिशाली भूचाल ने ली 4 की जान

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button