दुनिया

"सभी की हत्या कर दी गई और मैं आखिरी….": इजरायल के इस नागरिक की दर्द भरी कहानी सुन रो पड़ेंगे आप

नई दिल्ली: इजरायल और फिलिस्‍तीन (Israel and Palestine) के बीच हालात बेहद खराब स्थिति में पहुंच गए हैं. हमास के आतंकियों ने शनिवार सुबह इजराइल के अलग-अलग इलाकों पर 5000 से ज्यादा रॉकेट दागे. अब इजरायल ने जवाबी कार्रवाई शुरू की है और वहां से तबाही की तस्वीर सामने आ रही है. यहां युद्ध के बीच मानवीय संवेदना को कुचला जा रहा है और लाशों की ढ़ेर है. इनसब के बीच कई दर्दनाक कहानी सामने आई है.

यह भी पढ़ें

इजरायली पत्रकार इंडिया नफ्ताली ने एक्स पर एक पोस्ट किया है और उन्होंने एक इजरायली नागरिक की दर्दनाक कहानी को साझा किया है. पोस्ट के माध्यम से उन्होंने यह बताया कि इजरायल के आदमी ने अपनी बहन, जो कि पैरामेडिक थी, को लेकर एक दर्दनाक कहानी शेयर की है. इजरायली नागरिक ने अपनी कहानी शेयर करते हुए लिखा, “मेरी  बहन अमित, जो केवल 22 वर्ष की थी, किबुतज़ बारी में एक पैरामेडिक थी. वह वहां पैरामेडिक्स को प्रशिक्षित करने में लगी हुई थी. उसने घायलों और मृतकों के साथ क्लिनिक में 6 घंटे इंतजार किया. फिर 6 घंटे तक वह चाकू लेकर रसोई में छुपी रही और अपने बगल में युद्ध, विस्फोट और गोलीबारी सुनती रही.

उन्होंने लिखा कि 6 घंटे हो गए और हम पूछते हैं कि सेना कहां है? बचाव दल कहां है? और मैं उससे वादा करता रहा है कि मदद मिलने वाली है. फिर वह एक संदेश भेजती है. “वे क्लिनिक में हैं, मुझे नहीं लगता कि मैं इससे बाहर निकल पाउंगी, मैं तुमसे प्यार करती हूं.”

यह भी पढ़ें :-  VIDEO: फिलिस्तीन समर्थक रुख के विरोध में क्लाइमेट प्रोटेस्टर ने ग्रेटा थुनबर्ग से छीना माइक

इजराइल के नागरिक ने लिखा,  “फिर कुछ मिनटों के बाद ऐसा महसूस होता है कि उसने कोई जवाब नहीं दिया, मैंने उसे फोन किया, उसने चिल्लाते हुए मुझे जवाब दिया कि उसके पैरों में गोली मार दी गई है. वहां सभी की हत्या कर दी गई और वह आखिरी व्यक्ति है. मैंने गोलियों की आवाज़ सुनी और कॉल कट गई.

“हमास को इसकी बड़ी कीमत चुकानी होगी..”

इजरायल और फिलिस्‍तीन (Israel and Palestine) के बीच हालात बेहद खराब स्थिति में पहुंच गए हैं. इजराइल पर हमास (Hamas Attack) के हमले में अभी तक 600 लोगों के मारे जाने की खबर है. हमास के आतंकियों ने शनिवार सुबह इजराइल के अलग-अलग इलाकों पर 5000 से ज्यादा रॉकेट दागे. हमास के इस हमले के बाद इजराइल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने एक बयान जारी कर कहा कि हमास को इसकी बड़ी कीमत चुकानी होगी. भारत समेत कई देशों ने मुश्किल की इस घड़ी में इजराइल के साथ खड़े होने की बात की है.  हालांकि बिगड़ते हालात के बीच दिल्ली से तेल अवीव की उड़ानें रद्द कर दी गई है. तेल अवीव से दिल्ली की उड़ानें 14 अक्टूबर तक रद्द रहेंगी. 

ये भी पढ़ें:- 
इज़राइल-हमास युद्ध में अब तक 500 से ज्यादा मौतें, 10 बड़ी बातें

इज़राइल पर हमले के लिए हमास ने क्यों चुना 6 अक्टूबर का दिन? जानें दो बड़ी वजह

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button