देश

यूपी के पूर्व मंत्री आजम खान को डूंगरपुर मामले में हुई 7 साल की कैद, भरना होगा 5 लाख का जुर्माना

रामपुर के डूंगरपुर में ज़मीन खाली कराने को लेकर जमकर हंगामा हुआ था. इस मामले में आजम खान भी आरोपी बनाए गए थे. 16 मार्च को कोर्ट ने उन्हें दोषी करार देते हुए अपना फैसला सुरक्षित रखा था. 18 मार्च को आजम खान कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंस से पेश हुए. आजम खान को धारा 452 के तहत 7 वर्ष की सजा हुई है. कोर्ट ने पूर्व सीओ सिटी आले हसन खान, पूर्व पालिका अध्यक्ष अजहर अहमद खान और ठेकेदार बरकत अली को भी दोषी माना है. इनके अलावा, जिबरान खान, फरमान खान और ओमेंद्र चौहान को बरी कर दिया गया है.

फर्जी बर्थ सर्टिफिकेट केस: आजम खान, पत्नी तंजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम को 7-7 साल की सजा

क्या है डूंगपुर मामला?

ये मामला समाजवादी पार्टी की सरकार के समय का है. रामपुर में पुलिस लाइन के पास डूंगरपुर में आसरा कॉलोनी बनाई गई थी. कॉलोनी बनने से पहले कुछ लोगों के यहां घर बने हुए थे, जिन्हें अवैध करार देकर 2016 में बुलडोजर से गिरा दिया गया था. सरकार बदलने पर तोड़े गए घरों के पीड़ित मालिकों ने बीजेपी की सरकार आने पर साल 2019 में थाना गंज में मुकदमे दर्ज कराए. कुल 12 मुकदमे दर्ज कराए गए थे.

डूंगरपुर केस के एक मामले में जनवरी में मिली जमानत

पुलिस ने जांच के दौरान इन मुकदमों में आजम खान को भी आरोपी बनाया. उनके खिलाफ भी चार्जशीट दाखिल की गई थी. हालांकि, डूंगरपुर केस के एक मामले में 31 जनवरी 2024 को कोर्ट ने आजम खान को बरी कर दिया था.

यह भी पढ़ें :-  अखिलेश यादव के साथ कांग्रेस के 'मतभेद' खत्म! INDIA गठबंधन की अगली बैठक 19 दिसंबर को

आजम खान के खिलाफ 84 मुकदमे दर्ज

आजम खान के खिलाफ 2019 में ताबड़तोड़ 84 मुकदमे दर्ज हुए थे. इनमें ज्यादातर मामले कोर्ट में विचाराधीन हैं. अब तक कुल 5 मामलों में फैसला आ चुका है. इनमें से 3 मामलों में उन्हें सजा हुई.

यदि आजम खान का ‘एनकाउंटर’ हुआ तो देश में क्या होगा, इसकी कल्पना भी नहीं कर सकते: राम गोपाल यादव

फर्जी जन्म प्रमाणपत्र मामले में पत्नी और बेटे को भी हुई सजा

आजम खान, उनकी पत्नी तंजीम फातिमा और बेटे अब्दुल्ला को रामपुर की MP-MLA कोर्ट ने फर्जी जन्म प्रमाणपत्र मामले में 7-7 साल की सजा सुनाई थी. पहले तीनों रामपुर जेल में थे. बाद में सुरक्षा कारणों के चलते आजम खान को 22 अक्टूबर, 2023 को सीतापुर जिला कारागार शिफ्ट किया गया था.

बता दें कि आजम खान यूपी की रामपुर सीट से ही 10 बार विधायक रहे हैं. वह एक बार सांसद भी रह चुके हैं. मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव के सीएम रहते आजम यूपी के फायर ब्रांड नेता माने जाते थे. उनकी पत्नी तंजीन फातिमा भी विधायक बनीं. बेटा अब्दुल्ला आजम दो बार विधायक बने. हालांकि, अब तीनों जेल में हैं.

सुप्रीम कोर्ट ने जौहर यूनिवर्सिटी को दी गई जमीन मामले में आजम खान को नहीं दी राहत, दिया ये आदेश

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button