देश

जानें कौन हैं रमेश कन्हिकन्नन, जो चंद्रयान -3 की सफलता के बाद बन गए अरबपति

चंद्रयान 3 की सफलता के बाद रमेश कुन्हिकन्नन बने अरबपति


रमेश कुन्हिकन्नन को इस साल पहली बार फोर्ब्स बिलियनेयर्स लिस्ट 2024 में नामित किया गया है, वो भी  $1.2 बिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ. इसके साथ ही कुन्हिकन्नन ने दुनिया के उन कुछ सबसे अमीर लोगों में अपना स्थान सुरक्षित कर लिया है, जिसमें एलन मस्क, मुकेश अंबानी जेफ बेजोस आदि शामिल हैं. 60 साल के कुन्हिकन्नन को अगस्त 2023 में चंद्रयान 3 की सफलता के बाद अरबपति का स्टेटस मिला.

जानें रमेश कन्हिकन्नन से जुड़ी 5 अहम बातें

  1. रमेश कुन्हिकन्नन (Ramesh Kunhikanna) कायन्स टेक्नोलॉजी के संस्थापक और प्रबंध निदेशक हैं, जो एक इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माता कंपनी है, जिसका मुख्यालय भारत के मैसूर में है.

  2. कुन्हिकन्नन ने मैसूर के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री ली है.

  3. उन्होंने 1988 में इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माता के रूप में कायन्स टेक्नोलॉजी की स्थापना की. उनकी पत्नी सविता रमेश 1996 में कंपनी में शामिल हुईं और अब कंपनी की अध्यक्ष के रूप में कार्यरत हैं.

  4. रमेश कुन्हिकन्नन ने चंद्रयान के रोवर और लैंडर दोनों को बिजली देने के लिए इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम की आपूर्ति करके भारत के ऐतिहासिक चंद्रयान -3 मिशन में एक प्रमुख भूमिका निभाई, जिसने अगस्त 2023 में चंद्रमा की सतह पर मिशन की सफल लैंडिंग में योगदान दिया.इसरो के नेतृत्व में चंद्रयान -3 मिशन का बजट लगभग ₹615 करोड़ का था.

  5. रमेश कुन्हिकन्नन की कायन्स टेक्नोलॉजी में 64% हिस्सेदारी है और चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) की सफलता के बाद कंपनी के शेयर मूल्यों में काफी वृद्धि हुई है.  इस कंपनी का पहले से ही प्रभावशाली प्रदर्शन रहा है. नवंबर 2022 में शेयर बाजार में पदार्पण के बाद से अब चंद्रयान की सफलता के बाद इसके शेयर का मूल्य तीन गुना हो गया है. फोर्ब्स (Forbes) के अनुसार कुन्हिकन्नन की कुल संपत्ति आसमान छूते हुए 1.2 बिलियन डॉलर तक पहुंच गई है.

यह भी पढ़ें :-  चंद्रयान-3 विक्रम लैंडर ने चंद्रमा पर उतरते ही वहां की धूल हटा दी थी
Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button