दुनिया

पत्नी को जेल में जहर देने की आशंका पर इमरान खान बोले – मैं जानता हूं कि इसके पीछे कौन है?

इस्लामाबाद:

जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को दावा किया कि उनकी पत्नी बुशरा बीबी को यहां उनके निजी आवास पर बनाई गई उप-जेल में कैद के दौरान विषाक्त भोजन दिया गया और यदि उन्हें नुकसान पहुंचता है तो सेना प्रमुख को जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए. पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) नेता ने अदियाला जेल में 19 करोड़ पाउंड के तोशाखाना भ्रष्टाचार मामले की सुनवाई के दौरान न्यायाधीश नासिर जावेद राणा को सूचित किया कि उनकी पत्नी को जहर देने का प्रयास किया गया था और उनकी त्वचा तथा जीभ पर ‘विषाक्तता’ के दुष्प्रभाव के परिणाम स्वरूप पड़ गए निशान देखे जा सकते हैं.

एक्सप्रेस ट्रिब्यून अखबार ने 71 वर्षीय पीटीआई संस्थापक के हवाले से कहा, ‘‘मैं जानता हूं कि इसके पीछे कौन है.”

यह भी पढ़ें

खान ने कहा कि अगर बुशरा को कोई नुकसान होता है, तो पाकिस्तान के सेना प्रमुख (जनरल असीम मुनीर) को जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए क्योंकि एक खुफिया एजेंसी के सदस्य इस्लामाबाद में उनके बानी गाला आवास और रावलपिंडी में अदियाला जेल में सब कुछ नियंत्रित कर रहे थे.

खान ने अदालत से शौकत खानम अस्पताल के डॉ. आसिम द्वारा 49 वर्षीय बुशरा की मेडिकल जांच का आदेश देने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि उन्हें और पार्टी को उस डॉक्टर पर भरोसा नहीं है जिसने पहले उनकी जांच की थी.

उन्होंने बुशरा को कथित रूप से जहरीला पदार्थ दिये जाने के मामले में भी जांच का अनुरोध किया. पूर्व प्रधानमंत्री के अनुरोध पर अदालत ने खान को बुशरा बीबी की मेडिकल जांच के बारे में विस्तृत आवेदन जमा करने का निर्देश दिया.

यह भी पढ़ें :-  इज़रायल पर हमास के हमले में ईरान की भूमिका का कोई प्रत्यक्ष सबूत नहीं: अमेरिका 
सुनवाई के बाद मीडिया से बात करते हुए बुशरा ने कहा कि पार्टी में उनके ‘अमेरिकी एजेंट’ होने की अफवाहें फैल रही थीं और उन्हें एक लोकप्रिय ‘टॉयलेट क्लीनर’ के जरिए जहर दिया गया था.

उन्होंने कहा कि बुशरा के खाने में एक लोकप्रिय ‘टॉयलेट क्लीनर’ की तीन बूंद मिलाई जाती रहीं. उन्होंने दावा किया कि एक महीने तक इसे सेवन के बाद व्यक्ति की सेहत बिगड़ जाती है.

पूर्व प्रधानमंत्री की पत्नी ने कहा, ‘‘मेरी आंखें सूज गईं, मुझे छाती तथा पेट में दर्द और परेशानी हुई और पानी का स्वाद भी कड़वा था. पहले शहद में कोई संदिग्ध पदार्थ मिलाया गया था और अब मेरे खाने में टॉयलेट क्लीनर मिलाया गया.”

उन्होंने कहा, ‘‘किसी ने मुझे जेल में बताया था कि मेरे खाने में क्या मिलाया गया. मैं किसी का नाम जाहिर नहीं करूंगी.”

बुशरा ने अदालत को सूचित किया कि उन्हें बानी गाला उप-जेल में सही ढंग से रखा गया था लेकिन उन्हें खिड़कियां बिल्कुल भी खोलने की इजाजत नहीं दी गई.

इससे पहले इमरान खान की पार्टी ने दावा किया था कि बुशरा को उनकी नजरबंदी के दौरान विषाक्त भोजन दिया गया था और उन्हें अत्यधिक दर्द हुआ. खान और बुशरा बीबी को जनवरी में तोशाखाना भ्रष्टाचार मामले में 14 साल कैद की सजा सुनाई गई थी.

 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button