देश

PM मोदी ने 7 बुल्गारियन नागरिकों को बचाने पर जताई खुशी, बोले-आतंकवाद से निपटने के लिए प्रतिबद्ध

पीएम मोदी ने की बुल्गारिया के राष्ट्रपति की सराहना.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

बुल्गारिया के राष्ट्रपति ने अदन की खाड़ी से हाईजैक जहाज MV रुएन (Bulgaria Hijacked Ship Rescued) को बचाए जाने पर पीएम मोदी और भारतीय नौसेना के शौर्य और पराक्रम की जमकर तारीफ की. उन्होंने जो भी कहा उसकी पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सराहना की. पीएम मोदी ने एक्स पर ट्वीट कर कहा कि बुल्गारिया के राष्ट्रपति रुमेन रादेव (Bulgaria President) के संदेश की वह सराहना करते हैं. उन्होंने बुल्गारिया के 7 नागरिकों के सुरक्षित होने पर खुशी जताते हुए कहा कि वह जल्द घर वापस लौटेंगे. इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि भारत नौवहन की स्वतंत्रता की रक्षा करने और हिंद महासागर क्षेत्र में समुद्री डकैती और आतंकवाद से निपटने के लिए प्रतिबद्ध है.

यह भी पढ़ें

ये भी पढ़ें-गाजा में अल जजीरा के रिपोर्टर को हिरासत में लिए जाने से अमेरिका चिंतित, इजरायल से मांगी जानकारी

पीएम मोदी और भारतीय नौसेना का आभार

बता दें कि भारतीय नौसेना ने 3 महीने पहले हाईजैक हुए जिस जहाज को बचाया है, उस पर 17 क्रू मेंबर भी सवार थे, जिनमें 7 बुल्गारिया के नागरिक थे. अपने नागरिकों की सुरक्षा पर बुल्गारिया के राष्ट्रपति ने न सिर्फ खुशी जाहिर की बल्कि उन्हें बचाने के लिए पीएम मोदी और भारतीय नौसेना की भी जमकर तारीफ की. बता दें कि सभी क्रू मेंबर्स को नौसेना के मार्कोज कमांडो ने रेस्क्यू किया.

7 बुल्गेरियाई नागरिकों की सुरक्षा पर खुशी

बुल्गारिया के राष्ट्रपति रुमेन रादेव ने एक्स पर पोस्ट में लिखा, “हाईजैक बुल्गेरियाई शिप रुएन और 7 बुल्गेरियाई नागरिकों समेत चालक दल को बचाने के बहादुरीपूर्ण कार्रवाई के लिए पीएम नरेंद्र मोदी और भारतीय नौसेना के प्रति मेरी हार्दिक कृतज्ञता.” बता दें कि राष्ट्रपति से पहले बुल्गारिया की डिप्टी पीएम मारिया गेब्रियल ने भी एक्स पर हाईजैक जहाज रुएन और क्रू मेंबर्स में शामिल 7 बीजी नागरिकों को बचाने के लिए नौसेना के प्रति अपना आभार जताया था. 

यह भी पढ़ें :-  BJP की दूसरी लिस्ट में अनुराग ठाकुर समेत 5 केंद्रीय मंत्री; पीयूष गोयल की लोकसभा जंग में एंट्री

नेवी से समुद्री लुटेरों से जहाज को छुड़ाया

बता दें कि भारतीय नौसेना ने शनिवार को एक माल्टा के झंडे वाले कमर्शियल जहाज (एमवी) रुएन को समुद्री लुटेरों से छुड़ाकर अपने कब्जे में ले लिया था. विशेषज्ञों का कहना है कि पिछले करीब 7 सालों में सोमालिया के समुद्री डाकुओं से किसी जहाज को इस तरह से छुड़ाने का यह पहला सफल अभियान है.

ये भी पढ़ें-इजरायली सैनिकों ने गाजा के अस्पताल पर मारे छापे, 20 की मौत, 200 को हिरासत में लिया

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button