देश

पीएम मोदी दो दिन के दौरे पर असम पहुंचे, शनिवार को तड़के काजीरंगा में जंगल सफारी करेंगे

पीएम मोदी इसके बाद केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल और राज्य के कृषि मंत्री अतुल बोरा, सरमा और अन्य लोगों के साथ एक हेलीकॉप्टर से काजीरंगा के पनबारी के लिए रवाना हुए. वहां पहुंचने पर एक बार फिर प्रधानमंत्री का स्वागत किया गया.

प्रधानमंत्री ने पनबारी हेलीपैड से काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में सेंट्रल कोहोरा रेंज के पास पुलिस अतिथि गृह तक लगभग 15 किलोमीटर का रास्ता सड़क मार्ग से तय किया. अतिथि गृह के रास्ते में लोगों की कतारें लगी थीं. मोदी ने अपने वाहन के पायदान पर खड़े होकर उनका अभिवादन किया. रास्ते में पारंपरिक बिहू और अन्य लोक गीतों और नृत्य की प्रस्तुतियां दी गईं, तथा मोदी ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट कर उनकी प्रशंसा की.

प्रधानमंत्री ने प्रस्तुतियों की तस्वीरें साझा करते हुए ‘एक्स’ पर लिखा, “असम के गोलाघाट जिले में एक बहुत ही विशेष स्वागत हुआ. असम की विविध और सुंदर संस्कृति की झलक मिली.”

मोदी अतिथि गृह पहुंचे, जहां वह रात बिताएंगे. इसके बाद सरमा ने कहा कि यह असम के लोगों के लिए सौभाग्य की बात है कि प्रधानमंत्री उनके बीच हैं.

सरमा ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर कहा, “जैसे ही माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान पहुंचे, ‘मोदी परिवार असम’ विश्व धरोहर स्थल पर अपने परिवार के सदस्य का स्वागत करने के लिए बड़ी संख्या में आया.”

यह भी पढ़ें :-  जन्मदिन पर दुबई नहीं ले जाने पर महिला ने पति को पीट-पीटकर मार डाला

एक अन्य पोस्ट में, मुख्यमंत्री ने कहा, ‘दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता, हमारे परिवार के बुजुर्ग, आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का काजीरंगा में हार्दिक स्वागत है.’

अधिकारियों ने पहले बताया था कि मोदी शनिवार तड़के जंगल सफारी करेंगे और इसके लिए जीप एवं हाथी सफारी दोनों की व्यवस्था की गई है. उन्होंने बताया कि मोदी वहां करीब दो घंटे रहेंगे. इसके बाद वह अरुणाचल प्रदेश रवाना होंगे, जहां वह दो कार्यक्रमों में शामिल होंगे.

वह दोपहर में जोरहाट लौटेंगे और महान अहोम सेनापति लचित बोरफुकन की 125 फुट ऊंची प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ वेलर’ (बहादुरी की प्रतिमा) का उद्घाटन करेंगे. अधिकारियों ने बताया कि इसके बाद मोदी मेलेंग मेतेली पोथार जाएंगे, जहां वह लगभग 18,000 करोड़ रुपये की केंद्रीय और राज्य परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे. प्रधानमंत्री जनसभा को भी संबोधित करेंगे और बाद वह पश्चिम बंगाल रवाना होंगे.

प्रधानमंत्री ने चार फरवरी को असम का दौरा किया था और 11,600 करोड़ रुपये की बुनियादी ढांचा परियोजनाएं शुरू की थीं.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को उत्तरी पश्चिम बंगाल की भी यात्रा करेंगे. इस माह यह उनकी तीसरी पश्चिम बंगाल यात्रा होगी. इस यात्रा के दौरान, प्रधानमंत्री सिलीगुड़ी में 4500 करोड़ रुपये से अधिक की बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे और भाजपा की एक रैली को संबोधित करेंगे. सिलीगुड़ी इस क्षेत्र का सबसे बड़ा शहर है.

एक सरकारी बयान के अनुसार प्रधानमंत्री रेलवे लाइन विद्युतीकरण की कई परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे जिनसे उत्तरी पश्चिमी बंगाल और आसपास के क्षेत्रों के लोग लाभान्वित होंगे. प्रधानमंत्री पश्चिम बंगाल में 3100 करोड़ रुपये की दो राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का भी उद्घाटन करेंगे.

यह भी पढ़ें :-  "एक-दूसरे का करते हैं सम्मान..." : बीजिंग से लौटने के बाद मालदीव के राष्ट्रपति ने की ड्रैगन की तारीफ

एक भाजपा नेता ने कहा, ‘‘सरकारी कार्यक्रम के बाद प्रधानमंत्री सिलीगुड़ी के कवाखाली मैदान में एक रैली को संबोधित करेंगे.”

इस माह पिछली दो यात्राओं के दौरान प्रधानमंत्री दक्षिणी पश्चिम बंगाल के विभिन्न जिलों– हुगली, नादिया और उत्तरी 24 परगना गये थे जहां तृणमूल की मजबूत पकड़ मानी जाती है. भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनाव में उत्तरी पश्चिमी बंगाल में अच्छा प्रदर्शन किया था. प्रधानमंत्री शनिवार को इसी क्षेत्र की यात्रा करेंगे.

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button