देश

"फर्स्ट टाइम वोटर्स की उम्मीदें…" : कांग्रेस के घोषणापत्र पर PM मोदी ने साधा निशाना

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए एक विशेष इंटरव्यू में कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा. कांग्रेस की घोषणापत्र पर बात करते हुए पीएम ने कहा कि युवा मतदाताओं की आकांक्षाओं को तोड़ने वाला बताया है. प्रधान मंत्री ने कहा कि 2047 में विकसित भारत के लिए उनका दृष्टिकोण आज के पहली बार के मतदाता के साथ जुड़ा हुआ है, जो विकास के इस पैमाने से सबसे बड़ा लाभार्थी होगा. 

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं जिस विकसित भारत की बात कर रहा हूं, उसके साथ-साथ किसका भविष्य है? जो आज 20 साल के हैं उन्हें ही इसका सबसे अधिक फायदा होगा.  ये एक तरह से उनकी पूरी जिंदगी का टाइम फ्रेम है.  2047 में वो 40, 45 साल के हो जाएंगे.  इसका मतलब यह है कि भारत के विकास की प्रक्रिया और उसके जीवन की प्रक्रिया दोनों एक ही है. 

यह भी पढ़ें

पीएम मोदी ने कांग्रेस के घोषणापत्र की आलोचना करते हुए कहा कि ये अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से बर्बाद कर देगा. इस तरह का घोषणापत्र अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से खराब कर देता है. विपक्ष का घोषणापत्र, देश के पहली बार मतदान करने वाले मतदाता की आकांक्षाओं को नष्ट कर देगा. अगर आप पूरा विश्लेषण करेंगे तो सबसे बड़ा नुकसान 25 साल से कम उम्र के लोगों के लिए है. 

टैक्स देने वालों का होना चाहिए सम्मान: PM 

पीएम ने यह भी कहा कि देश में करदाताओं का सम्मान होना चाहिए, कर संग्रह में उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई है क्योंकि लोगों को सरकार पर भरोसा है. पीएम मोदी ने कहा कि “करदाताओं का सम्मान होना चाहिए. अगर वे हर करदाता का दुरुपयोग करते रहेंगे, तो देश कैसे चलेगा? मुझे समझ नहीं आता कि यह किस तरह की सोच है. पिछले 10 वर्षों में आईटीआर फाइल धारकों की संख्या में वृद्धि हुई है.

यह भी पढ़ें :-  अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बावजूद सब्सिडी योजना रहेगी जारी, सरकार ने साफ की तस्वीर

पीएम मोदी ने कहा कि पहले 4 करोड़ से भी कम लोग ITR फाइल करते थे, आज 8 करोड़ से ज्यादा लोग ITR फाइल कर रहे हैं. यानी पहले नेट टैक्स कलेक्शन 11 लाख करोड़ हुआ करता था शुद्ध कर संग्रह 34 लाख करोड़ है. ऐसा क्यों हो रहा है? यह विश्वास के कारण है कि वह जो पैसा दे रहा है उसका उपयोग विकास के लिए किया जा रहा है, चोरी और लूट के लिए नहीं अपने विश्वास के कारण देने आएं. पीएम ने कहा कि मैं करदाताओं से भी एक अनुरोध करूंगा कि देश के लिए, विकसित भारत के लिए एक करदाता क्या कर सकता है?

ये भी पढ़ें- :

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button