दुनिया

UK : महिला को पेट में हुआ दर्द, डॉक्टरों ने बताया प्रेग्नेंट लेकिन निकला ओवेरियन कैंसर, जानें पूरा मामला

ओवेरियन कैंसर युवतियों में अधिक आम होता जा रहा है.

यूके में एक मिस डायग्नोसिस का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. जानकारी के मुताबिक, एक 24 वर्षीय महिला को बताया कि वो प्रेग्नेंट है जबकि उसे ओवेरियन कैंसर था. बीबीसी के मुताबिक एम्मा कोलाज फरवरी 2022 में लगतार ब्लोटिंग और बार-बार टॉयलेट जाने को लेकर डॉक्टर से चैकअप कराने गई थी. उसे लगा था कि ऐसा किसी एलर्जी या फिर संवेदनशील आंत की बीमारी के कारण हो रहा है. 

यह भी पढ़ें

डॉक्टर ने उसे बताया कि उसे ब्लोटिंग इस वजह से हो रही है क्योंकि वो प्रेग्नेंट है लेकिन उसके प्रेग्नेंसी टेस्ट नेगेटिव आए. एम्मा ने कहा, “मैं मई में डॉक्टर के पास गई थी और उन्होंने बताया कि मैं प्रेग्नेंट हूं. मैं जानती थी कि मैं प्रेग्नेंट नहीं हूं और इस वजह से कंफर्म कराने के लिए मैंने टेस्ट कराए. मैं जानती हूं कि लोग कहते हैं कि अपने लक्षणों को गूगल पर चैक न करें लेकिन मैंने जब अपने लक्षण गूगल पर चैक किए तो उसने हमेशा इसका कारण ओवेरियन कैंसर बताया और बताया कि ऐसा अक्सर 50 से अधिक उम्र की महिलाओं में होता है.”

एम्मा को आगे की जांच के लिए अपॉइंटमेंट दिया गया था, लेकिन इससे पहले कि वह जांच के लिए जा पातीं, उसका दर्द काफी बढ़ गया. फिर उसका अल्ट्रासाउंड किया गया जिसमें पता चला कि उसके पेट में एक सिस्ट है और इस तरह उसके ओवेरियन कैंसर के बारे में पता चला. उन्होंने कहा, “जब मुझे पहली बार इसके बारे में पता चला था तो मैं काफी डर गई थी और मुझे लगा था कि क्या मैं अपने 24वे जन्मदिन तक भी जिंदा रह पाऊंगी लेकिन मैं बहूद दृण इरादे वाली हूं. मैं बहुत जिद्दी हूं और मैंने खुद को बताया कि ये मेरा जाने का वक्त नहीं है और मैंने यह सुनिश्चित किया.”

यह भी पढ़ें :-  "हर कार में 2-3 शव": इज़रायल में म्यूजिक फेस्ट में हमास ने कुछ इस तरह बरपाया कहर

एम्मा ने बताया, “यह मेरे पेट और पेट की लाइनिंग तक फैल गया था. सिस्ट इतनी बड़ी थी कि डॉक्टरों को उसके अलावा कुछ नहीं दिख रहा था और ये मेरी किडनी को तोड़ने लगी थी. मुझे लगा कि मेरी उम्र बहुत कम है और फिर भी मुझे ओवेरियन कैंसर हो गया क्योंकि यह बिल्कुल भी सामान्य नहीं है. लेकिन अंत में यह कैंसर ही निकला.”

इसके बाद एम्मा का साढ़े पांच घंटे का एक ऑपरेशन हुआ, जिसमें सिस्ट और ओवरी को निकाला गया. मेट्रो के मुताबिक, इसके बाद उसकी एक अन्य सर्जरी भी हुई थी जो 9 घंटे तक चली थी. इसमें उसका गर्भाशय, और उसके अपेंडिक्स, प्लीहा और आंत के हिस्से को हटाना शामिल था. 

इसके अलावा, न्यूकैसल के फ्रीमैन अस्पताल में टीनएज कैंसर ट्रस्ट यूनिट में उनकी कीमोथेरेपी के छह राउंड हुए. उसका आखिरी कीमोथेरेपी उपचार 2023 में हुआ था और तब से स्कैन में कैंसर के दोबारा लौटने का कोई संकेत नहीं मिला है. टीनएज कैंसर ट्रस्ट ने कहा कि ओवेरियन कैंसर युवतियों में अधिक आम होता जा रहा है. ट्रस्ट ने कहा, ”ओवेरियन कैंसर के लक्षणों को जानना एक अच्छा विचार है, लेकिन याद रखें कि कैंसर से कम गंभीर कई स्थितियां भी इन लक्षणों का कारण बन सकती हैं.” 

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button