दुनिया

"हमास के ठिकानों को हम मलबे में बदल देंगे": इज़राइल के PM नेतन्याहू की चेतावनी

फिलिस्तीनी आतंकी गुट हमास (Israel Hamas Conflict) के रॉकेट हमलों में हुई भीषण तबाही के बाद इजराइल बदले की आग में जल रहा है. इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने सख्त चेतावनी देते हुए कहा है कि वह इन आतंकियों के ठिकानों को  मलबे में तब्दील कर देंगे. उन्होंने चेतावनी दी है कि गाजा में हमास के ठिकानों के पास रहने वाले फिलिस्तीनी जल्द से जल्द वहां से चले जाएं. उन्होंने साफ-साफ कहा है कि वह हमास के ठिकानों को मलबे में बदल कर रख देंगे. 

यह भी पढ़ें

ये भी पढ़ें-Explainer: क्या है ‘हमास’? जिसने इजराइल में मचाई तबाही, जानें इससे जुड़ी हर जानकारी

पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा है कि बुराई के इस शहर में, जिन भी जगहों पर हमास मौजूद है और जहां वह छिपा हुआ है, उन जगहों को वह मलबे में तब्दील कर देंगे. टीवी पर प्रसारित एक बयान में इजराइल के पीएम नेतन्याहू ने कहा,’ मैं गाजा के लोगों से कह रहा हूं, अभी वहां से चले जाओ, क्यों कि हम हर जगह अपनी पूरी ताकत से कार्रवाई करने वाले हैं.’

‘हम गाजा की तस्वीर बदल देंगे’

इससे पहले इजराइल के रक्षामंत्री योव गैलेंट ने भी एक बयान जारी कर हमास को सबक सिखाने की चेतावनी दी थी. उन्होंने कहा कि गाजा को इजराइल के पलटवार के लिए तैयार रहना चाहिए. हम गाजा की तस्वीर बदलकर रख देंगे. हमास को बहुत ही जल्द इस बात का ऐहसास हो जाएगा कि उसने इजराइल पर हमला करके कितनी बड़ी गलती की है. बता दें कि शनिवार को हमास की तरफ से दागे गए 5 हजार रॉकेट्स के हमले में इजराइल के 300 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. वहीं इजराइल की तरफ से जवाबी एक्शन में गाजा के 232 लोग मारे गए हैं. दोनों ही तरफ के 500 से ज्यादा लोग अब तक दोनों के युद्ध में मारे जा चुके हैं.

यह भी पढ़ें :-  परिंदा भी पर नहीं मार सकता.. पूरी दुनिया में क्यों नॉर्थ-साउथ कोरिया के बॉर्डर की चर्चा

इजराइल में अब तक 300 से ज्यादा मौतें

इजराइल और फिलिस्तीन के बीच यह विवाद कोई नया नहीं है. इसका एक पुराना इतिहास है. समाचार एजेंसी रॉयटर की एक रिपोर्ट के अनुसार, इजराइल-फिलिस्तीन (Palestine) के बीच विवाद की टाइमलाइन साल 2005 में गाजा पट्टी से इजराइल की वापसी और फिर उसके और फिलिस्तीनी ग्रुपों के बीच शुरू हुए संघर्ष का ब्यौरा देती है. भीड़भाड़ वाले तटीय क्षेत्र में इजराइल और फिलिस्तीनी समूहों के बीच झड़पें लगातार चलती रही हैं. इस क्षेत्र में 23 लाख लोगों के घर हैं. ताजा हमले में 300 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. 

ये भी पढे़ं-“इजराइल की खुफिया एजेंसी की विफलता का नतीजा”: हमास द्वारा किए गए हमले पर विशेषज्ञों की रा

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button