दुनिया

डेडलाइन ओवर, इजरायल के आक्रमण की तैयारी के बीच 10 लाख लोगों ने छोड़ा उत्‍तरी गाजा: 10 पॉइंट्स

इजरायल-गाजा युद्ध

नई दिल्ली:
संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि जब से इजरायल ने फिलिस्तीनी (Israel Palestine War) आतंकी गुट हमास के खिलाफ बमबारी अभियान शुरू किया है, तब से उत्तरी गाजा पट्टी में दस लाख से ज्यादा लोगों को उनके घरों से बाहर निकाला गया है.  

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. इजरायल गाजा पट्टी पर जमीनी हमले की तैयारी कर रहा है. ज़मीनी हमले के लिए इज़रायली सेना ने गाजा के बाहरी इलाके में बख्तरबंद गाड़ियां जुटाई हैं. इज़राइल का साफ कहना है कि उनके यहां 6 अक्टूबर को हुए हमलों के प्रतिशोध में वह हमास पर हमला कर रहा है और उसके कार्यकर्ताओं और ऑपरेशनल सेंटर्स को निशाना बना रहा है. हमास के हमलों में 1,400 से ज्यादा इज़राइली मारे गए और सैकड़ों को किडनैप कर लिया गया.

  2. इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने रविवार को देश की विस्तारित आपातकालीन कैबिनेट बुलाई थी, जिसमें पूर्व विपक्षी सांसद शामिल रहे. उन्होंने कहा, “हमास ने सोचा था कि हम ध्वस्त हो जाएंगे बल्कि हम ही हमास को ध्वस्त कर देंगें.

  3. इज़रायली अधिकारियों का कहना है कि गाजा पर कोई भी जमीनी हमला “राजनीतिक फैसले” पर निर्भर करेगा. गाजा पर संभावित हमले की तैयारी में, इज़रायल ने, इज़रायल डिफेंस फोर्स (आईडीएफ) और इज़रायली वायु सेना (आईएएफ) की संयुक्त ताकत के साथ, 400,000 से ज्यादा रिजर्व तैनात किए हैं. 

  4. इजरायल की तरफ से लगातार हो रही बमबारी में गाजा में 2,670 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है, जिनमें 700 से ज्यादा बच्चे भी शामिल हैं. इज़रायल ने घनी आबादी वाले गाजा पट्टी ने पानी, बिजली और भोजन की सप्लाई रोक दी है. हालांकि रविवार को दक्षिणी क्षेत्र में पानी की सप्लाई बहाल कर दी गई.

  5. इज़रायल का कहना है कि उनके यहां पर 7 अक्टूबर को हुए हमले के लिए हमास कमांडर याह्या सिनवार जिम्मेदार है. इज़रायली सैन्य प्रवक्ता लेफ्टिनेंट रिचर्ड हेचट ने सिनवार को “चलता हुआ मरा हुआ आदमी” करार दिया है.

  6. इज़रायल के सामने करीब 150 बंधकों को बचाने की कठिन चुनौती है. माना जा रहा है कि इन बंधकों को हमास ने   सुरंगों और भूमिगत बंकरों में रखा है. विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि इज़रायल अपनी मारक क्षमता की श्रेष्ठता खोते हुए दुश्मन को करीबी मुकाबले में उलझाने के लिए मजबूर हो जाएगा क्योंकि गाजा की सुरंगों का जटिल नेटवर्क किसी भी हमले में एक महत्वपूर्ण कारक है.

  7. अरब लीग और अफ़्रीकी संघ ने इजरायल के ज़मीनी हमले के गंभीर परिणामों के बारे में कड़ी चेतावनी जारी की है. उन्होंने यहां तक कहा है कि संभावित आक्रमण से बड़ी संख्या में नरसंहार होगा.

  8.  इज़राइल में किबुत्ज़ निरिम नरसंहार के लिए ज़िम्मेदार हमास के शीर्ष कमांडर बिलाल अल केदरा रविवार को गाजा पट्टी के दक्षिण में खान यूनिस शहर में एक इज़रायली हवाई हमले में मारा गया था. शनिवार को गाजा शहर पर एक और इजरायली हवाई हमले में हमास के एक वरिष्ठ सैन्य कमांडर मुराद अबू मुराद की मौत हो गई, जो इस्लामी गुट के हवाई अभियानों का नेतृत्व कर रहा था. 

  9. ईरान समर्थित हिजबुल्लाह गुट के साथ तोपखाने की गोलीबारी के बाद इज़रायल को लेबनान के साथ अपनी उत्तरी सीमा पर देश के दूसरी ओर एक अलग युद्ध की संभावना का भी सामना करना पड़ रहा है.  इज़रायल के रक्षा मंत्री योव गैलेंट ने कहा है कि उनके देश को उत्तर में युद्ध में कोई दिलचस्पी नहीं है, और वह स्थिति को बढ़ाना नहीं चाहता है. उन्होंने कहा कि अगर हिजबुल्लाह युद्ध का रास्ता चुनता है, तो उसे भारी कीमत चुकानी पड़ेगी. लेकिन अगर वह खुद को रोकता है, तो हम स्थिति का सम्मान करेंगे.

  10. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने तनाव कम करने की अपील करते हुए हमास से सभी बंधकों को रिहा करने का भी आग्रह किया है. एंटनी गुटेरेस ने इज़रायल से गाजा में मानवीय सहायता के लिए रास्ता देने की अनुमति देने का भी अनुरोध किया है.

     

यह भी पढ़ें :-  जब तक हमास खत्म नहीं हो जाता तब तक इज़राइल नहीं रुकेगा: नेतन्याहू ने रूस के राष्ट्रपति पुतिन से कहा
Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button