देश

केंद्र सरकार के साथ 5 घंटे तक चली बैठक रही बेनतीजा, किसानों ने 'दिल्ली चलो' का किया आह्वान

एक किसान नेता ने बैठक खत्‍म होने के बाद कहा, “बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला. हम सुबह 10 बजे दिल्ली के लिए अपना मार्च शुरू करेंगे. हालांकि, हम अपने फोरम में सरकार द्वारा दिए गए प्रस्तावों पर चर्चा करेंगे. सरकार यहां स्पष्ट रूप से गलती कर रही है.” 

बातचीत के जरिए समाधान निकाल लेंगे : मुंडा 

बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि किसान संगठनों के साथ गंभीरता से बातचीत हुई. सरकार हमेशा चाहती है कि बातचीत के माध्यम से समाधान निकले. अधिकांश विषयों पर हम सहमति तक पहुंचे लेकिन कुछ विषयों पर हमने स्थाई समाधान के लिए कमेटी बनाने को कहा. हम अभी भी मानते हैं कि किसी भी समस्या का समाधान बातचीत से हो सकता है. हम आशान्वित है कि आगे बातचीत के जरिए हम समाधान निकाल लेंगे. साथ ही उन्‍होंने कहा कि हम किसानों के हितों की रक्षा चाहते हैं. 

वे बस समय निकालना चाहते हैं : पंढेर 

बैठक के बाद केंद्रीय मंत्रियों और किसान नेताओं के बीच बैठक पर किसान नेता जगजीत सिंह दल्लेवाल ने कहा, “काफी देर तक बैठक चली, हर मांग पर चर्चा हुई लेकिन ये मांगें नहीं थीं, यह अलग-अलग समय पर सरकार द्वारा की गई प्रतिबद्धताएं थीं…”

किसान मजदूर मोर्चा के संयोजक सरवन सिंह पंढेर ने कहा कि सरकार के पास कोई प्रस्ताव नहीं है, वे बस समय निकालना चाहते हैं. 

इन मुद्दों पर नहीं बन पा रही है सहमति 

सूत्रों के मुताबिक, सरकार और किसान संगठनों के बीच बातचीत में बिजली अधिनियम 2020 रद्द करने, लखीमपुर खीरी में मारे गए किसानों को मुआवजा, किसान आंदोलन के दौरान किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस लेने पर सहमति बनी है. हालांकि MSP गारंटी कानून, किसान कर्ज माफी और स्वामीनाथन आयोग पर पेंच अभी भी फंसा हुआ है.

यह भी पढ़ें :-  बवाना स्टेडियम को किसानों के लिए जेल बनाने का दिल्ली पुलिस का प्रस्ताव केजरीवाल सरकार ने किया खारिज

धारा 144 लागू, 12 मार्च तक बड़ी सभाओं पर प्रतिबंध

किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली में 12 मार्च तक सभी बड़ी सभाओं पर प्रतिबंध रहेगा. साथ ही दिल्ली पुलिस ने राजधानी में धारा 144 लगा दी है. दिल्ली पुलिस ने किसानों के मार्च के मद्देनजर यातायात परामर्श जारी किया है, जिसमें यात्रियों को राष्ट्रीय राजधानी की तीन सीमाओं पर वाहनों की आवाजाही पर लगी पाबंदियों के बारे में सचेत किया गया है. दिल्ली से जुड़े नोएडा और गुरुग्राम के लिए भी एडवाइजरी जारी की गयी है.

नोएडा पुलिस की ओर से कहा गया है कि गौतमबुद्धनगर से दिल्ली सीमा से लगने वाले सभी बॉर्डरों पर बैरियर लगाकर दिल्ली पुलिस एवं गौतमबुद्धनगर पुलिस द्वारा सघन चैकिंग की जायेगी, जिसके कारण गौतमबुद्धनगर से दिल्ली बॉर्डर लगने वाले मार्गां पर यातायात दबाव बढने की स्थिति में आवश्यकतानुसार यातायात डायवर्जन किया जायेगा. हरियाणा पुलिस ने भी एडवाइजरी जारी की है.

ये भी पढ़ें :

* किसानों का ‘दिल्ली चलो’ मार्च : चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात, राजधानी में धारा 144 लागू; ट्रैफिक एडवाइजरी जारी

* क्या विपक्षी दल दे रहे किसानों के ‘दिल्ली चलो’ मार्च को हवा? आखिर क्यों उठा ये सवाल

* किसानों का ‘दिल्ली चलो’ मार्च : एसकेएम नेता ने ‘हिरासत’ में लिए किसानों की रिहाई की मांग की

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button